SSC की पूरी जानकारी

हेलो दोस्तों क्या आप 12th पास स्टूडेंट है तो आपके लिए इस आर्टिकल ऐसी जानकारी देने बाला हूँ जो आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. इस आर्टिकल में मैं आपको बताने बाला हूँ की “SSC Full Form in Hindi” एसएससी क्या है. “SSC” कैसे करे की पूरी जानकारी. आपने 12 पास कर्ली है और आपको ये पता नहीं है की 12th पास करने के पास क्या करें तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े इसमें आपको पूरी जानकारी मिल जाएगी.

[Staff Selection Commission] SSC Full Form in Hindi - एसएससी क्या है

“SSC” हर स्टूडेंट कर सकता है क्योंकि ये डिप्लोमा लाखो स्टूडेंट की पहली पसंद है. आप 12th पास के स्टूडेंट से पूछ सकते हैं की उसे क्या करना है तो बो यही कहेगा की उसे SSC करना है इसलिए SSC एक ऐसी डिप्लोमा है जिसे हर प्रकार का स्टूडेंट कर सकता है.

SSC Full Form in Hindi – एसएससी क्या है

SSC यानी की Staff Selection Commission (कर्मचारी चयन आयोग) होता है. SSC की स्थापना 1977 में हुई थी. यह एक बोर्ड होता है जो केंद्र सरकार के मंत्रालयों और कई विभागों में ग्रुप B एवं C के लिए कर्मचारियों का चयन करता है. 
SSC एक ऐसी स्टडी है जिसको करके आपको नौकरी मिलना तय  हो जाता है अगर आप बैंक और रेलवे जैसे सरकारी नौकरी पाना चाहते हैं तो आप SSC की तैयारी जरूर करे और SSC का एग्जाम जरूर दे. इसके लिए आपको कोई कॉलेज ज्वाइन करने की जरुरत नहीं पड़ती है आप नजदीकी किसी कोचिंग या इंस्टुट में जाकर SSC की स्टडी कर सकते हैं. 

एसएससी  कैसे करे 

आप अगर एसएससी करना चाहते हैं तो आप अपने नजदीकी किसी कोचिंग में जाकर इसकी स्टडी कर सकते हैं. आपको इसकी जानकारी भी कोचिंग से ही मिल जाएगी. एसएससी की परीक्षा ऑनलाइन कंप्यूटर  माध्यम से ली जाती है आप जब इसका एग्जाम देने जायेगें तो पता चल जायेगा. 
फाइनली एसएससी का पूरा नाम कर्मचारी चयन आयोग होता है.  आपको इसके बारे में पूरी जानकारी विकिपीडिया पर मिल जाएगी.  आप इस लिंक को विजिट करे – कर्मचारी चयन आयोग

वर्ल्ड वाइड वेब क्या है और इसको कैसे इस्तमाल करते हैं

वर्ल्ड वाइड वेब क्या है और इसको कैसे इस्तमाल करते हैं: दोस्तों इस आर्टिकल में, मैं आपको बताने बाला हूँ की Www का पूरा नाम क्या है. आप ने कभी इंटरनेट चलाया है और आपने कभी नोटिस किआ है की जब आप किसी वेबसाइट को ओपन करते हैं तो उसमे “www” क्यों लगाना पड़ता है और कोई भी साइट www के साथ ही क्यों ओपन होती है और इसका पूरा मतलब  क्या होता है इसके बारे में जानकारी देने बाला हूँ.

ये तो सभी जानते हैं की इंटरनेट का दूसरा नाम technology server होता है जो technology मशीनो और digital उपकरणों से बनता है ठीक इसी प्रकार सर्वर पर कोई वेबसाइट को run करने के लिए हम्हे एक वेबसाइट बनानी पड़ती है और उस वेबसाइट को बनाने के लिए एक web address की जरुरत पड़ती है तभी हम web address बनाने के लिए www यानि की “World Wide Web” इस्तमाल करते हैं. तब जाकर हम अपनी वेबसाइट को server से जोड़ सकते हैं.

इस आर्टिकल में, मैं आपको World Wide We (www), Www का पूरा नाम क्या है, WWW Full Form in Hindi, World Wide Web Meaning In Hindi के साथ WWW History की बात करेगें.

Www का पूरा नाम क्या है?

www full form ( Www का पूरा नाम) “WORLD WIDE WEB” होता है. www का इस्तमाल करके हम अपनी वेबसाइट को server से जोड़ सकते हैं और साथ ही में हम अपनी वेबसाइट पर अपने नॉलेज के हिसाब से वर्क भी कर सकते हैं. 

WWW Ka Full Form

“WORLD WIDE WEB”

World Wide Web Meaning In Hindi

“विश्व व्यापी वेब”

WWW क्या है?

www server पर काम करता है अगर आप कोई वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो आपको पहले अपनी वेबसाइट www के साथ server से जोड़ना पड़ता है. तब जाकर आप अपनी वेबसाइट को चला सकते हो. 
WWW Html, Http, Web Server और Web Browser पर काम करता है, Web Server पर सभी Website के लिए एक Link होती है जो www  और Dot के साथ जुड़ी होती है जिसे Web Address कहते हैं. अगर आप किसी भी साइट को किसी ऐसे ब्राउज़र में ओपन करोगे जिसमे auto www adding सेटिंग न हो तो आप उस ब्राउज़र में अपनी साइट या किसी भी साइट बिना www के साथ रन नहीं कर सकते हैं. 
अभी जितने भी ब्राउज़र हैं जिन्हे हम इंटरनेट के लिए इस्तमाल करते हैं उनमे पहले से ऐसी सेटिंग होती हैं जिनमे आटोमेटिक www जुड़ जाता है और साइट ओपन हो जाती है लेकिन पहले समय में हम्हे www भी साथ में जोड़कर साइट को ओपन करना पड़ता था. 
www website का पूरा address होता है जैसे की – https://www. sarkaripedia .in/ जिस तरह इसमें www का इस्तमाल हुआ है ठीक बैसे ही सभी urls में www का इस्तमाल होता है.

WWW History

दोस्तों अब बात आती है इसके इतिहास की तो Tim Berners Lee (टिम बर्नर्स ली) को World Wide Web Inventor माना जाता है, Tim Berners Lee ने WWW को 1989 में बनाया था जिसका पहला ट्रायल December 1990 में स्विट्जरलैंड में Cern लैबोरेट्रीज में हुआ था. 1993 तक Browser और Web Server Software उपलब्ध हो गए थे, और इसके साथ ही 1992 तक कुछ Sites जैसे – विश्वविद्यालय इलिनोइस, 1992 के अंत तक लगभग 26 Sites डेवलप हो चुकी थी. ठीक इसी प्रकार तब से अब तक www टेक्नोलॉजी server का मुख्य रोल बन गया. 

आखरी विचार:

दोस्तों आखिरी में, मैं आपको बताना चाहता हूँ की www का पूरा नाम “WORLD WIDE WEB” है जिसे अभी तक सभी इंटरनेट वर्क्स में इस्तमाल किआ जाता है और आगे भी इसे  किआ जायेगा. www सभी web browser के साथ और https, http, HTML, और बहुत सारे सर्वर उपकरणों के साथ मिलकर इस्तमाल या वर्क करता है. 
मैं आशा करता हूँ की आपको ये जानकारी पसंद आयी होगी तो इसे ज्यादा-ज्यादा से शेयर करे और निचे कमेंट करे. ऐसी जानकारी पाने के लिए इस साइट को विजिट करते रहे और इसे जुडी ज्यादा जानकारी पाने के लिए आप और आर्टिकल पढ़े. 

HTML क्या है और इसे कैसे सीखें?

एच.टी.एम.एल – हेलो दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं full form of HTML यानी की HTML का पूरा नाम क्या है और ये किस काम में वर्क करता है. अभी हम पिछले आर्टिकल में पढ़ा था की CSS का फुल फॉर्म क्या है लेकिन आज हम बात करने वाले हैं HTML Full Form की, ये तो सभी जानते ही होगें की आज के टाइम इंटरनेट का use कितना बढ़ता जा रहा है लेकिन आप ये नहीं जानतें होगें की जब हम इंटरनेट पर कोई कंटेंट सर्च करते हैं तो जो कंटेंट हम्हे सर्च में मिलता है बो बासिक्ली वेबसाइट पर स्टोरेज रहता है और बो वेबसाइट HTML पर बानी रहती है. लेकिन हर वेबसाइट HTML कोडिंग पर ही नहीं बानी होती कुछ वेबसाइट other programming language में क्रिएट होती है लेकिन अधिक्तर website HTML पर ही बनी होती है.

HTML क्या है और इसे कैसे सीखें?

आज के टाइम में आपको आपके जरुरत के हिसाब से इंटरनेट काफी useful है आपको जब भी कोई जानकारी की  जरुरत पड़ती है आप आसानी से इंटरनेट ओपन करके इंटरनेट पर सर्च करके आसानी जानकारी जुटा लेते होगें लेकिन अब बात ये आती है की बो जानकारी इंटरनेट पर कहा से आ जाती है और जो इंटरनेट पर जानकारी में text इस्तमाल किये जाते हैं बो कहाँ से आ जाती है. तो जानकारी के लिए आपको बता देता हूँ की बो जानकारी हमारे इंटरनेट डेवलपर एंड कंटेंट राइटर वहाँ पर लिखते हैं. लेकिन अब बात आती है की कैसे लिखते हैं तो जानकारी ये की बो Coding का इस्तमाल करके वेबसाइट क्रिएट करते हैं जिसमे HTML programming language का पूरा इस्तमाल रहता है और जो text इस्तमाल किये जाते हैं बो भी HTML से ही क्रिएट किये जाते हैं.

दोस्तों HTML एक ऐसी programming language है जिससे आप बड़ी से बड़ी वेबसाइट क्रिएट कर सकते हैं. इस लैंग्वेज के इलाबा बहुत सारी language है जो internet programming में इस्तमाल होती हैं लेकिन HTML सबसे ज्यादा इस्तमाल की जाने बाली programming language है तो दोस्तों जानते हैं HTML Full Form के बारे में.

HTML Full Form in Hindi – HTML का पूरा नाम क्या है?

HTML Full Form in Hindi - HTML का पूरा नाम क्या है?
HTML का Full Form “Hypertext Markup Language” है जिसे हम शार्ट में एच.टी.एम.एल (HTML) भी कहते हैं. इस programming language का इस्तमाल web pages और Web application बनाने में किया जाता है. इसके साथ CSS programming language और Java programming language का भी इस्तमाल किआ जाता है. जहाँ पर HTML का इस्तमाल होता है फिर बहाँ style इफेक्ट देने के लिए css का इस्तमाल किया जाता है.  
HTML के साथ और भाषा जैसे: CSS, JavaScript, जैसी भाषा मिलकर www के लिए यानी की world wide web के लिए एक वेबसाइट का निर्माण करते हैं जो सर्वर से कनेक्ट होकर www के लिए वर्क करती हैं. आप ऐसी साइट पर बहुत सारे वर्क कर सकते हैं. 

History of html in hindi

HTML language का इस्तेमाल सर्वप्रथम 1980 में भौतिक वैज्ञानिक Tim Berners-Lee के द्वारा किया गया था. Tim Berners-Lee ने 1989 में Internet-based hypertext system आधारित एक प्रस्ताव विज्ञापन बनाया, इसके उपरांत इन्होने 1990 के अंत तक में HTML को विस्तृत कर browser एवं server software भी बनाया। पहले समय में HTML इतना useful नहीं माना गया और प्रोग्रामर्स ने इसे इस्तमाल करने से मना कर दिया लेकिन 1991 में इसका नया वर्शन लांच हुआ जिसके पश्चात सभी ने इसे इस्तमाल किया। तब से अब तक इसके बहुत सारे वर्शन मार्केट्स में मौजूद है. 

HTML Version

तब से अब तक HTML ने बहुत सारे version को बनाया है जिसमे तब से अब तक के बहुत सारे version available हैं जिनकी जानकारी आपको में निचे दे रहा हूँ. 
  1. HTML
  2. HTML5
  3. XHTML 0 
  4. XHTML 1 
  5. XHTML 0 
  6. XHTML syntax

HTML Features

HTML में बहुत सारे फीचर्स Available हैं जिनसे आप एक परफेक्ट वेबसाइट और एप्लीकेशन बना सकते हैं लेकिन आपको HTML में लिमिटेड फीचर्स ही मिलते हैं ज्यादा फीचर्स के लिए इसमें javaScript का इस्तमाल करना पड़ता है जिससे इसमें ज्यादा फीचर्स मिल जाते हैं.
मैं आशा करता हूँ की आपको ये आर्टिकल “HTML Full Form in Hindi – HTML का पूरा नाम क्या है” पसंद आया होगा तो आप इसे शेयर करें और निचे कमेंट करें.